ट्राई के नए नियमों से कम नहीं होगा टीवी बिल, 10 चैनल के लिए 25% ज्यादा खर्च करना होगा

SaveSavedRemoved 0
Deal Score0
Deal Score0

गैजेट डेस्क. टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) के नए नियम से ग्राहकों को सिर्फ अपनी पसंद के टीवी चैनलों को सब्सक्राइब करने की छूट मिली। यह नियम 1 फरवरी से लागू हुआ है। लेकिन, रेटिंग एजेंसी क्रिसिल की रिपोर्ट के मुताबिक इससे उपभोक्ताओं के टीवी बिल में कमी की उम्मीद नहीं है। रिपोर्ट के मुताबिक नए नियम से अधिकतर ग्राहकों पर बिल का बोझ कम होने की बजाय बढ़ेगा।

ट्राई ने नियम लागू करने के साथ कहा था कि देश के 90% से ज्यादा उपभोक्ता 50 या उससे भी कम चैनल देखते हैं और नए कानून से उन्हें अपनी पसंद के चैनल चुनने की आजादी होगी और उनके लिए उन चैनलों से बंधने की मजबूरी नहीं होगी जिन्हें वे नहीं देखते।

25% तक बढ़ जाएगा टीवी बिल
क्रिसिल के वरिष्ठ निदेशक सचिन गुप्ता ने कहा, ‘नियमों के हमारे विश्लेषण से यह पता चला है कि दर्शकों के मासिक टीवी बिल पर इसका अलग-अलग प्रभाव पड़ेगा। पुरानी कीमतों से तुलना करने पर 10 चैनल सब्सक्राइब करने वाले उपभोक्ताओं का बिल मौजूदा 230-240 रुपए की तुलना में 25% तक बढ़कर 300 रुपए प्रति माह पर पहुंच सकता है। लेकिन, यदि उपभोक्ता पांच चैनल या इससे कम सब्सक्राइब करते हैं तो उनका बिल घट सकता है।’ क्रिसिल का मानना है कि इन नियमों से लोकप्रिय चैनलों को फायदा होगा और ओवर द टॉप सेवाओं जैसे नेटफ्लिक्स, हॉटस्टार आदि की तरफ लोगों का रुझान बढ़ेगा। इससे प्रसारण उद्योग में एकीकरण और विलय को भी बढ़ावा मिलेगा।


new trai rules to increase dth and cable bills says crisil report

Register New Account
Reset Password
Compare items
  • Total (0)
Compare